कन्या भ्रूण हत्या क्या है । और यह क्यों अपराध है what is female feticide

  • कन्या भ्रूण हत्या क्या है
  • कन्या भ्रूण हत्या के बारे में जानकारी
  • कन्या भ्रूण हत्या को कम केसे किया जा सकता है।

कन्या भ्रूण हत्या क्या है
कन्या भ्रूण हत्या जो की एक सबसे बड़ा जघन्य अपराध है जिसमें बेटे की इच्छा को बढ़ावा और दहेज जैसी स्थिति के कारण से लोगो द्वारा बेटी के जन्म को रोका जाता है इसलिए गर्भ में कन्या की हत्या करना एक अपराध है जिसे हम कन्या भ्रूण हत्या करते हैं।

कन्या भ्रूण हत्या के बारे में जानकारी
हमारे देश में भ्रूण हत्याओं में बालिकाओं को पहले ही पेट में मार दिया जाता है इसलिए कन्या भ्रूण हत्या आज हमारे देश की बहुत बड़ी समस्या है जिसमें हमारे समाज के कुछ व्यक्तियों द्वारा कन्याओं को जन्म से पहले ही पेट में मार दिया जाता है इसमें न केवल अशिक्षित वर्ग है बल्कि काफी मात्रा में शिक्षित वर्ग भी शामिल है । जहां भारत के सबसे समृद्ध राज्यों में पंजाब , हरियाणा , दिल्ली और गुजरात शामिल है। जहां की लिंगानुपात सबसे कम है , जहां 2001 में पंजाब की जनगणना में 798 , हरियाणा 819, गुजरात में 883 लड़कियों की संख्या रही । 1000 लड़कों की तुलना में। इसे कम करने के लिए गुजरात राज्य में “डिकरी बचाओ” अभियान तथा अन्य राज्यों में अलग-अलग अभियान शुरू किए गए।
भारत में पिछले चार दशकों से लिंगानुपात में काफी गिरावट आई । जहां 1981 में 962 बालिकाएं रही 1000 बालकों में तथा 2011 में यह संख्या 943 रह गई । पिछले कुछ डेटाओ में 2007 से 2016 तक 55 लाख बेटियों को गर्भ में ही मार दिया गया। जहां हमारे भारत जैसे देश में कन्याओं को बचाने के लिए ” सेव द गर्ल चाइल्ड” प्रोग्रामो को बढ़ावा दिया जा रहा है। क्योंकि आज भी हम लड़कियों को लड़कों के बराबर नहीं मानते। जो की एक गलत विचारधारा है।

आज कन्या भ्रूण हत्या का मुख्य कारण जन्म से पूर्व पेट में शिशु की बारे में पता करना है।जिसमें अल्ट्रासाउंड इसका मुख्य कारण है। सरकार द्वारा इसे कम करने के लिए 1994 में PNDT के तहत अधिनियम लाया गया ।जिसके तहत पेट में शिशु की जानकारी देना दंडनीय अपराध है। जिसमें 2003 में इससे जुड़े सख्त कानून बनाए गए और PCPNDT अधिनियम के तहत कठोर अपराध का प्रावधान दिया गया है।

कन्या भ्रूण हत्या को कम केसे किया जा सकता है।
इसे कम करने के लिए हमें उन समाज को बढावा दिया जाना चाहिए जहा मातृ सत्तात्मक हो । जिससे दहेज प्रथा को कम किया जा सके। महिला सशक्तिकरण पर बल देना चाहिए जिससे महिला अपना अधिकार खुद ले पाए।
हमारे संविधान में अनुच्छेद 21 जिसमे हम सभी को जीवन जीने का अधिकार देता है इसलिए कन्या भ्रूण हत्या एक पाप है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *